RCH ka Full Form 2024? जाने RCH के बारे मे जरुरी बातें

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

RCH Full Form in Hindi 2023: RCH का मतलब क्या होता है? जाने RCH के बारे मे जरुरी बातें

RCH Full Form in Hindi 2023दोस्तों, क्या आप RCH के बारे में सुना है। अगर आपका जवाब नहीं है, तो घबराने की कोई जरुरत नहीं है। आज हम इस आर्टिकल में RCH से सम्बंधित सारी बाते आपको बताने वाले हैं। केंद्र सरकार द्वारा गर्ववती महिलाओं व शिशुओं की देखभाल के लिए एक राष्ट्रीय पोर्टल बनाया है। माताओं एवं शिशुओं के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए बनाया गया इस पोर्टल RCH Full Form को केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 1997 में बनबाया गया था। इस कार्यक्रम का संचालन केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा किया जाता हैं।

इच्छुक एवं योग्य आवेदकों को इस कार्यक्रम का लाभ लेने के लिए पहले ऑनलाइन के जरिए रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। तो चलिए आज के इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बतायेंगें की RCH क्या होता है, इसका फुल नाम क्या है, इसका उद्देश्य, इसके फायदें साथ हीं साथ RCH का काम क्या है, कितने प्रकार के होते हैं और आवेदन कैसे करें आदि के बारे में ! इस कार्यक्रम से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी नीचे पूरे विस्तार से बताई गई है। वे तमाम जानकारी के लिए इस आर्टिकल को अंत तक जरुर पढ़ें।

New Vacancy

RCH Full Form in Hindi 2023: RCH का मतलब क्या होता है?

RCH Full Form in Hindi 2022

आर्टिकल का नामRCH Full Form In Hindi 2023 ( RCH Full Form )
आर्टिकल की तिथि04-01-2024
सम्बंधित विभागकेन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय
पोर्टल का नामRCH पोर्टल
उद्देश्यगर्ववती महिलाओं व शिशुओं की देखभाल करना
लाभार्थीगर्ववती महिला व शिशु
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://rch.nhm.gov.in/

RCH Full Form- आरसीएच का फुल फॉर्म क्या होता है ?

RCH का Full Form Reproductive and Child Health Program ( रिप्रोडक्टिव एंड चाइल्ड हेल्थ प्रोग्राम) होता है। जिसे हिंदी में  “प्रजनन और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम” कहते हैं।

RCH का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के द्वारा Reproductive and Child Health program (प्रजनन और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम) और RCH Portal भारत में 15 अक्टूबर 1997 को शुरू की गई एक कानूनी पहल है। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य विशेष कर गर्ववती माताओं और नवजात शिशुओं को सही देखभाल करना है, उनका टिकाकरण करना एवं प्रयाप्त सहायता प्रदान करना है। इस कार्यक्रम से माताओं के प्रसव के दौरान होने वाली मृत्यु दर को कम किया जा सकता है। गर्वावस्ता के दौरान महिलाओं का उचित देखभाल करना इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्यों में एक है।

RCH से होने वाली फायदें क्या क्या है ?

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के द्वारा Reproductive and Child Health program (प्रजनन और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम) लागू किए जानें के अनेक फायदें हैं। जिसे विस्तार से नीचे बताया गया हैं _

  • गर्वावस्ता के दौरान महिलाओं का उचित देखभाल करना।
  • नवजात शिशुओं का समय पर टिकाकरण लगवाना।
  • माताओं के प्रसव के दौरान होने वाली मृत्युदर को कम किया जाना।
  • माताओं और शिशुओं को समय समय पर उचित स्वास्थ्य से सम्बंधित सुविधा देना।
  • माताएँ अपनी स्वास्थ्य से सम्बंधित जानकारी खुद अपनी id से चेक कर सकती है।
  • शिशु का टिकाकरण गर्भवती महिला खुद की टिकाकरण की जानकारी घर बैठे अपने मोबाइल से चेक कर सकती है।

RCH पोर्टल क्या होता है ?

RCH Full Form इस कार्यक्रम के अंतर्गत हैल्थ डिपार्टमेंट द्वारा गर्भवती महिला को एक 12 अंक का आईडी नंबर प्रदान करती है जिसकी मदद से वह महिला अपने होने वाले बच्चे के टीके कहीं भी किसी भी सरकारी हेल्थ सेंटर पर लगवा सकती है। इस प्रणाली के लागू होने के बाद RCH ID Number के द्वारा गर्भवती महिला एवं बच्चे की सारी जानकारी एक ही नंबर से मिल पाएगी। जबकि इससे पहले मैनुअल रजिस्टर में एंट्री होने पर जच्चा एवं बच्चा दोनो के लिए दो अलग-अलग रजिस्टर में एंट्री होती थी।

इस कार्यक्रम में प्रजनन, मातृत्व, नवजात शिशु, बच्चे और किशोर स्वास्थ्य की देखभाल के लिए पूरे देश को शामिल किया गया है। इस कार्यक्रम से महिलाओं को बांझपन की समस्या, गर्भावस्था के चक्र और बच्चे के जन्म की प्रक्रिया से जुड़ी पूरी जानकारी आप अपने मोबाइल से चेक कर सकते हैं। इस कार्यक्रम से माध्यम से माँ और बच्चे की सुरक्षा का ध्यान रखा गया है।

आपको बता दूँ कि इस कार्यक्रम के तहत जिले में सभी खंड के संबंधित एएनएम को अनमोल नामक एक मोबाईल ऐप दिया जाएगा। जिसमें एएनएम द्वारा जज्चा व बच्चा को मिलने वाली सभी प्रकार की स्वास्थ्य सेवाओं का डीटेल को अपलोड किया जाएगा।

RCH पोर्टल के चरण / भाग 

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के द्वारा Reproductive and Child Health program (प्रजनन और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम) को 4 (चार) भाग में बांटा गया है, जिससे की माताओं व शिशुओं को सही समय से सही उपचार और देखभाल हो सकें। सभी भागों को नीचे पूरे विस्तार से बता गया है _

  • परिवार नियोजन :  इसका पहला चरण का उद्देश्य जनसँख्या नियंत्रण करना है। जिसमें बढ़ती जनसँख्या को नियंत्रित करने के लिए लोगों को बताया जाता है कि कैसे लोग जनसँख्या को नियंत्रण करने में सफल नहीं हो पाते हैं।
  • मातृत्व की सुरक्षा करना : इसका दूसरा चरण का मुख्य उद्देश्य गर्भवती माताओं को प्रसव से पहले सुरक्षा/ देखभाल प्रदान करना है और प्रसव के बाद उन्हें सभी सुविधा उपलब्ध कराना है।
  • माताओं की देखभाल करना : इसका तीसरा चरण का मुख्य उद्देश्य माताओं के पोषण एवं टिकाकरण करना है। माताओं को प्रसव से पूर्व और प्रसव के बाद लगने वाली टिकाकरण को सही समय से लगवाना और साथ हीं उनके पोषण का ख्याल रखना है।
  • बच्चे की देखभाल : इसका चौथा चरण का मुख्य उद्देश्य नवजात शिशुओं को समय से टिकाकरण लगाना और शिशुओं का स्तनपान कराना है।

RCH पोर्टल पर गर्ववती महिलाएं का रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

यदि आप भी केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के द्वारा Reproductive and Child Health program (प्रजनन और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम) के रजिस्ट्रेशन करवाना चाहते हैं, तो नीचे दिए गये स्टेप को फॉलो कर बहुत हीं आसानी से आप अपना रजिस्ट्रेशन RCH Full Form कर सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको_

  • RCH पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। वैसे ऑफिसियल वेबसाइट का लिंक नीचे दिया हुआ है।
  • होम पेज पे दिए गये Self Registration के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • आपके सामने एक पेज खुलेगा जिसमें Registration Pregnant Women में New Registration के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने नया रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जायेगा।
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को सही सही भरना है और फिर सेव (Save) के आप्शन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आपकी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और आपके दिए गए मोबाइल नंबर पर एक रजिस्ट्रेशन id प्राप्त हो जायेगा।
  • जिसे भविष्य के लिए नोट कर लेना है।

RCH पोर्टल पर नवजात शिशु का रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

यदि आप भी केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के द्वारा Reproductive and Child Health program (प्रजनन और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम) के रजिस्ट्रेशन करवाना चाहते हैं, तो नीचे दिए गये स्टेप को फॉलो कर बहुत हीं आसानी से आप अपना रजिस्ट्रेशन RCH Full Form कर सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको-

  • RCH पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। वैसे ऑफिसियल वेबसाइट का लिंक नीचे दिया हुआ है।
  • होम पेज पे दिए गये Self Registration के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • आपके सामने एक पेज खुलेगा जिसमें Register Child  में New Registration के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने नया रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जायेगा।
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को सही सही भरना है और फिर सेव (Save) के आप्शन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आपकी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और आपके दिए गए मोबाइल नंबर पर एक रजिस्ट्रेशन id प्राप्त हो जायेगा।
  • जिसे भविष्य के लिए नोट कर लेना है।

RCH पोर्टल पर गर्भावती माताएँ/ नवजात शिशु अपना स्टेटस कैसे चेक करें ?

यदि आप भी केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के द्वारा Reproductive and Child Health program (प्रजनन और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम) के पोर्टल से अपना स्टेटस देखना चाहते हैं, तो नीचे दिए गये स्टेप को फॉलो करें –

  • सबसे पहले आपको RCH पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। वैसे ऑफिसियल वेबसाइट का लिंक नीचे दिया हुआ है।
  • होम पेज पे दिए गये Self Registration के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • आपके सामने एक पेज खुलेगा जिसमें Register Women/Child  में New Registration के विकल्प के नीचे Check Status के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने नया रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जायेगा। जिसमें आपको राज्य (State) और अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर डालकर सर्च (Search) करना है।
  • प्राप्त OTP (One Time Password) को बॉक्स में सलकर सबमिट करते हीं आपका स्टेटस आपके सामने होगा।

जाने Bitcoin के बारे मे जरुरी बातें👉👉Click Here

Important Links

सारांश 

मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी यह जानकारी RCH Full Form पसंद आई होगी, अगर आपको मेरी यह जानकारी पसंद आई होगी तो आप इसे लाइक करे और अपने दोस्तों, फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी मिल सके।

धन्यवाद !!!

Share To Friends

Leave a Comment